April 10, 2021

UK LIVE

ख़बर पक्की है

23 मंत्रालयों ने देश के 633 ज़िलों के साथ मिलकर शुरू की वैक्सीनेशन की तैयारी !

नेशनल डेस्क- नई दिल्ली– देश में कोरोना संक्रमण की स्थिति और कोविड वैक्सीन की आपात मंजूरी और उसके वितरण की तैयारी के बारे में मंगलवार को स्वास्थय मंत्रालय ने प्रेस कांफ्रेंस कर जानकारी दी। उन्होंने कहा कि, देश के सभी 633 ज़िलों में कोरोना वैक्सीनेशन की तैयारियां की जा चुकी हैं। वैक्सीनेशन के लिए बनाई गई टास्क फोर्स हर एक जिले में बैठक कर चुकी हैं। वैक्सीनेशन के कार्य में केंद्र और राज्यों के 23 मंत्रालय के विभागों को अलग अलग जिम्मेदारियां दी गई हैं। य़ानि 23 मंत्रालयों ने देश के 633 ज़िलों के साथ मिलकर शुरू की वैक्सीनेशन की तैयारी शुरू कर दी है !

स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण
स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण

अमेरिका सहित कई देशों में वैक्सीनेशन के दौरन सामने आए दुष्प्रभावों को देखते हुए केंद्र सरकार ने राज्यों को हर ब्लॉक और जिले में कम से कम एक दुष्प्रभाव प्रबंधन केंद्र बनाने का भी निर्देश दिया है। ये केंद्र प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भी हो सकते हैं।
स्वास्थय सचिव राजेश भूषण ने ये भी कहां ,कि कोरोना वैक्सीनेशन के लिए माडयूल तैयार किए गए हैं और प्रशिक्षण देने का कार्य किया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बताया गया, कि देश में कोल्ड चेन के प्रबंधन को लेकर भी दिशा- निर्देश जारी किए जा चुके हैं। 29 हजार कोल्ड चेन प्वाइंट, 240 वाक इन कूलर, 70 वाक इन फ्रीजर, 45 हजार आइस लिंक रेफ्रिजरेटर, 41 हजार डीप फ्रीजर और 300 सोलर रेफ्रिजरेटर इस्तेमाल किए जाएंगे।

टीकाकरण के बाद हो सकता है प्रतिकूल प्रभाव
टीकाकरण के बाद हो सकता है प्रतिकूल प्रभाव


डॉ. वीके पॉल ने कहा कि, इस हफ्ते ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया(डीआरआइ) ने भारत में एक और कंपनी के वैक्सीनेशन के लिए क्लीनिकल टेस्ट की मंजूरी दे दी हैं। जेनोआ कंपनी ने भारत सरकार की अनुसंधान एजेंसी डिपार्टमेंट ऑफ बायोटेक्नोलॉजी की मद्द से एक वैक्सीन विकसित की हैं।

Share, Likes & Subscribe