January 17, 2021

UK LIVE

ख़बर पक्की है

वैक्सीन लगवाने के लिए रहें तैयार, रिएक्शन से बचाएगी ‘एड्रेनालाईन’

उत्तराखंड- कोरोना के दो टीकों को आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी मिलने के बाद राज्य में टीकाकरण की तैयारी अंतिम चरण में पहुंच गई है. राज्य के 13 में से 12 जिलों में 293 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, प्राइवेट अस्पतालों और शिक्षण संस्थानों को बूथ बनाने के लिए चुना गया है. वहीं राजधानी देहरादून में बूथ चयन की प्रक्रिया अंतिम चरण में है. जानकारी के मुताबिक, टीकाकरण के लिए हर बूथ पर लाइफ सेविंग इंजेक्शन एड्रेनालाईन रखना अनिवार्य होगा. ये इंजेक्शन टीके के के रिएक्शन या साइट इफेक्ट से बचाने के काम आएगा. इसके अलावा सभी टीकाकरण बूथों के लिए एक-एक एम्बुलेंस भी रिजर्व रखने कके निर्देश दिए गए हैं.

आफ्टर वैक्सीनेशन इफेक्ट के लिए सेंटरों पर मौजूद होगी एड्रेनालाईन
आफ्टर वैक्सीनेशन इफेक्ट के लिए सेंटरों पर मौजूद होगी एड्रेनालाईन

हरिद्वार में टीकाकरण के लिए पचास बूथ बनाए जा रहे हैं. जिसमें से 16 प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, 8 निजी अस्पताल और 24 शिक्षण संस्थान शामिल हैं. जिनमें आईटी और पॉलिटेक्निक कॉलेज भी शामिल हैं. टीकाकरण के लिए 11 सुपरवाइजर तैनात किए जा रहे हैं. जिसके बाद हरिद्वार में कुल 14031 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जाएगा. चमोली में 10 अस्पतालों को टीकाकरण बूथ बनाया जा रहा है. जिसके बाद नोडल अफसर डॉ उमा रावत ने जानकारी देते हुए बताया, कि इन 10 अस्पतालों में प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शामिल हैं. जिसमें 3752 लोगों का टीकाकरण होगा.

इसके अलावा पौड़ी जिले में 114 कोरोना बूथ बनाए गए हैं. अधिक भूमि होने के कारण कुछ और स्थानों की भी तलाश की जा रही है. जिले में सभी अस्पतालों को टीकाकरण बूथ बनाया गया है. जिसमें एडिशनल पीएचसी, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शामिल हैं. उत्तरकाशी जिले में भी स्वास्थ्य कर्मियों के कोरोना टीकाकरण के लिए 7 बूथ बनाए गए हैं. पहले चरण में कुल 3165 लोगों को टीके लगाए जाएंगे. इसमें भी अन्य जिलों की तरह प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को टीकाकरण बूथ बनाने के लिए चुना गया है.

टीकाकरण के लिए बनाए जा रहे हैं टीकाकरण बूथ
टीकाकरण के लिए बनाए जा रहे हैं टीकाकरण बूथ

इसी के साथ राजधानी देहरादून में 28 हजार स्वास्थ्य कर्मियों को टीके लगाए जाने हैं. इसके लिए सीएचसी, पीएचसी और उप केंद्रों को टीकाकरण बूथ बनाया गया है. हालांकि जिले में अभी भी बूथ संख्या फाइनल नहीं हो पाई है. इस बूथ में मास्क, सेनेटाइजर, डीप फ्रीजर और एम्बुलेंस भी तैनात रहेगी. स्वास्थ्य प्रभारी निदेशक डॉ सरोज नैथानी ने बताया, कि कोरोना वैक्सीन के लिए बूथ बनाए जा रहे हैं. इसी के साथ ये भी सुनिश्चित किया जा रहा है, कि बूथ पर हर तरह की बेसिक सुविधा उपलब्ध हो. वैक्सीन के रिएक्शन या साइट इफेक्ट से बचाव के लिए एड्रेनालाईन के इंजेक्शन भी रखे जाएंगे.

Share, Likes & Subscribe