January 28, 2021

UK LIVE

ख़बर पक्की है

इतने रुपए में मिलेगी वैक्सीन की एक खुराक़ !

नेशनल डेस्क- नई दिल्ली- देश में कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी के इस्तेमाल की मंजूरी मिलने के बाद अब लोगों के मन में इसकी कीमत को लेकर सवाल उठने लगे हैं.ऐसे मे सीरम इंस्टीटयूट ऑफ इंडिया ने अपनी वैक्सीन कोविशील्ड की कीमत का खुलासा कर दिया है.

कोविशील्ड वैक्सीन की एक खुराक 219 से 292 रूपये की होगी
कोविशील्ड वैक्सीन की एक खुराक 219 से 292 रूपये की होगी

एसआईआई के अनुसार सरकार को कोविशील्ड वैक्सीन की एक खुराक 219 से 292 रूपये की होगी जबकि बाजार में इसकी कीमत दोगुनी होगी जिसके लिए 438 से 584 रूपये चुकाना पड़ेगें.
कंपनी के सीईओ अदार पूनावाला ने बताया कि कंपनी पहले चरण में भारत सरकार और इसके साथ जुड़े देशों के बाजारों में कोविशील्ड वैक्सीन बेंचना शुरू करेगी. उन्होंने कहा, कि हमारी कोशिश सभी को सस्ती दर पर आसानी से वैक्सीन मुहैया कराना है. उन्होंने ये भी स्पष्ट कहा कि भारत सरकार को ये टीकी इसलिए सस्ता पड़ेगें क्योंकि वो बड़े स्तर पर टीके की खरीदारी कर रहे हैं.

भारत सरकार को ये टीका इसलिए सस्ता पड़ेगा क्योंकि वो बड़े स्तर पर टीके की खरीदारी कर रहे हैं.
भारत सरकार को ये टीका इसलिए सस्ता पड़ेगा क्योंकि वो बड़े स्तर पर टीके की खरीदारी कर रहे हैं.


सीरम इंस्टीटयूट ऑफ इंडिया ने बताई वैक्सीन की कीमत-
सीरम इंस्टिटयूट ऑफ इंडिया ने सोमवार को यह जानकारी देते हुए बताया, कि एस्ट्राजेनेका और ऑक्सफोर्ड विश्वविधालय द्वारा तैयार कोरोना वायरस वैक्सीन की लागत सरकार को प्रति खुराक 219 से 292 रूपये के बीच पड़ेगी, जबकि निजी क्षेत्र के लिए यह दोगुनी कीमत यानी 438 से 548 रुपये में उपलब्ध होगी. दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन विनिर्माता एसआईआई के पास कोविड-19 वैक्सीन की खुराक के उत्पादन का लाइसेंस है और अब तक वह पांच करोड़ खुराक का उत्पादन भी कर चुका है.

सीरम इंस्टीटयूट अभी वैक्सीन की और दस करोड़ डोज का उत्पादन एक महीने के अंदर कर सकता है.
सीरम इंस्टीटयूट अभी वैक्सीन की और दस करोड़ डोज का उत्पादन एक महीने के अंदर कर सकता है.

दोगना हो सकता है वैक्सीन का डोज-
अदार पूनावाला ने कहा कि सीरम इंस्टीटयूट अभी वैक्सीन की और दस करोड़ डोज का उत्पादन एक महीने के अंदर कर सकता है. यह संभव है कि ये आकंड़ा अप्रैल में दोगनी हो जाएगा. सरकार ने पहले ही लोगो को यह सनुश्चित कर दिया है कि जुलाई 2021 तक तीन करोड़ खुराक की जरूरत होगी. जिसका इस्तेमाल स्वास्थ्यकर्मियों, बुजुर्गों और फ्रंटलाइन वर्कर्स पर होगा. एसआईआई सरकार के साथ वैक्सीन के उत्पादन और वितरण के उत्पादन और वितरण को लेकर लगातार संपर्क में है.

Share, Likes & Subscribe