February 27, 2021

UK LIVE

ख़बर पक्की है

आपदा बचाव राहत कार्य

NTPC के लापता श्रमिकों को मिलेगा 5 से 15 लाख का मुआवजा !

उत्तराखंड, चमोली आपदा, 7 फरवरी की सुबह चमोली में आई आपदा का वो काला दिन आज भी उन लोगों की आंखों में खौफ पैदा कर रहा है. जिनके सामने या जिनके कैमरे में उस वक्त जलजले में जान बचाने की गुहार लगाते इंसान चीख पुकार कर रहे थे, लेकिन मौत का वो तांडव चंद सेकंड़ों में अपनी शैतानियत के सिर्फ और सिर्फ निशान छोड़ता आगे निकल गया. ऐसे निशान जिनके नीचे न जानें कितने ही इंसान ज़िंदा दफन हो गये. बिना कराहे बस जलजले की दलदल में खामोशी के साथ हमेशा हमेशा के लिए सो गये.

जलजले का खौफनाक रूप

सोमवार को जलजले को गुज़रे 9 दिन बीत गये हैं लेकिन गुमशुदा हुए अपनों को अब भी उनके जिंदा होने की आस है. एनटीपीसी प्रोजेक्ट में काम करने वाले तमाम कर्मचारी जो अब भी लापता हैं. उनके तलाशी अभियान के लिए एनटीपीसी, एसडीआरएफ, सीआईएसएफ. यूपीएनएल, आईटीबीपी, एनड़ीआरएफ समेत कई संस्थाों के करीब 325 इंजीनियर और अधिकारी अब भी जुटे हुए हैं.

युद्ध स्त्र पर चल रहा है आपदा बचाव कार्य

एनटीपीसी में काम करने वाले और हादसे में लापता हुए कर्मचारियों के परिजनों को कुछ राहत की घोषणा भी हुई है. जिसमें परिजनों को पीएफ कर्मचारी अधिनियम के तहत 5 से 15 लाख रुपए और मुआवज़ा मिलेगा.

एनटीपीसी कंपनी संचालन की स्पीड बढ़ाने के लिए हाई एँड सबमर्सिबल स्लश रिमूवल पंपों के साथ साथ मशीनरी को भी ञपरेट कर रही है. तो वहीं नदी के ेक छोर से दाएं हिस्से तक डी-सिल्टिंग का काम तेजी से किया जा रहा है. धौलीगंगा का पानी फिर से टनल में जाए इसके लिए नदी के बहाव का भी बिस्तार जरूरी हो गया है.
केंद्र और राज्य सरकार से बचाव दल को रेस्क्यू ऑपरेशन चलाने के लिए हर वो ज़रूरी मशीनरी और साजो सामान मुहैय्या करवाया जा रहा है, जिसकी ज़रूरत है. टनल में लगातार ड्रिलिंग का काम रफ्तार के साथ चल रहा है.

हादसे में लापता हुए लोगों और टनल के अंदर फंसे लोगों के परिजनों के लिए भी बचाव दल के पास ही एनटीपीसी ने एक सूचना केंद्र के साथ साथ लॉजिंग और बोर्डिंग भोजन और मेडिकल सुविधा उपलब्ध करबाई है. तो वहीं एनटीपीसी अपनी परियोजना के निर्माण में लगी एजेंसी के कर्मचारियों के परिजनों को 20 लाख रूपे का मुआवजा दे रही है. तो वहीं राज्य सरकार की ओर से 4 लाख और केंद्र की ओर से 2 लाख का मुआवजा दिया जा रहा है.

Share, Likes & Subscribe