January 22, 2021

UK LIVE

ख़बर पक्की है

शासन से 350 डॉक्टर्स, 352 फार्मासिस्ट, 450 नर्स, 23 सुपरवाइजरर्स और 3000 वार्ड ब्वॉय की मांग

महाकुंभ की तैयारी ज़ोरों पर, हज़ारों स्वास्थकर्मियों की लगेगी ड्यूटी !

उत्तराखंड- हरिद्वार- कोरोना महामारी से देश अभी मुक्त भी नहीं हुआ था, कि देश में कोरोना के नये स्ट्रेन से पूरी दुनिया में एक बार फिर से हड़कंप मच गया है. बावजूद इसके कुंभ की तैयारियां ज़ोरों पर हैं लेकिन साथ ही किसी भी तरह की ढिलाई नहीं बरती जा रही है. हरिद्वार में कुंभ के आयोजन को लेकर लोगों में काफी उत्साह है.

कुंभ की तैयारियों में किसी भी तरह की ढिलाई नहीं
कुंभ की तैयारियों में किसी भी तरह की ढिलाई नहीं

हरिद्वार में महाकुंभ मेले की अधिसूचना जारी होने से पहले 31 डॉक्टर ही स्वास्थ्य व्यवस्था संभालेंगे. इसकी तैनाती जोनल प्रभारी, सेक्टर प्रभारी और प्रशासनिक अधिकारी के तौर पर की गई है. मार्च के पहले सप्ताह में 319 डॉक्टर्स और 3,825 स्वास्थ्य कर्मियों को ड्यूटी पर लगाया जाएगा. फिलहाल जोनल और सेक्टर प्रभारी की ड्यूटी मक्खी और मच्छर नियंत्रण अभियान में लगाई जाएगी.

कुंभ मेले के दौरान स्वास्थ्य व्यवस्थाओं के लिए शासन से 350 डॉक्टर्स, 352 फार्मासिस्ट, 450 नर्स, 23 सुपरवाइजरर्स और 3000 वार्ड ब्वॉय और सफाई कर्मियों की मांग की गई थी. लेकिन कुंभ की अधिसूचना जारी न होने के चलते अब तक स्वास्थ्य विभाग को पर्याप्त संख्या में स्वास्थकर्मी उपलब्ध नहीं हो पाए हैं.

अधिसूचना जारी होने से पहले 31 डॉक्टर संभालेंगे  स्वास्थ्य व्यवस्था
अधिसूचना जारी होने से पहले 31 डॉक्टर संभालेंगे स्वास्थ्य व्यवस्था

कुंभ के मेलाधिकारी डॉ. अर्जुन सिंह सेंगर ने जानकारी देते हुए बताया, कि कुंभ की अधिसूचना जारी होने के बाद मार्च में पर्याप्त संख्या में चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों की तैनाती की जाएगी. जोन और सेक्टर प्रभारी पद पर तैनाती के लिए 31 डॉक्टर्स की डिमांड भेजी गई थी. जिन्हें ड्यूटी ज्वाइन करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं. इसमें से 16 डॉक्टर्स की ज्वाइनिंग हो चुकी है, जबकि 15 डॉक्टर्स अगले दो-तीन दिनों में पद ग्रहण कर लेंगे.

शासन से 350 डॉक्टर्स, 352 फार्मासिस्ट, 450 नर्स, 23 सुपरवाइजरर्स और 3000 वार्ड ब्वॉय की मांग
शासन से 350 डॉक्टर्स, 352 फार्मासिस्ट, 450 नर्स, 23 सुपरवाइजरर्स और 3000 वार्ड ब्वॉय की मांग

जानकारी के मुताबिक 115 चिकित्सकों की नियुक्ति आउटसोर्स पर की जाएगी. इन चिकित्सकों, संविदा कर्मियों को निर्धारित वेतन का भुगतान किया जाएगा. डॉ. सेंगर ने बताया, कि शासन से 350 चिकित्सकों की मांग पूरी न होने पर आउटसोर्स चिकित्सकों की संख्या बढ़ाई जाएगी. चिकित्सकों की भर्ती के लिए मेला प्रशासन टेंडर निकालने की तैयारी कर रहा है. इसके अलावा अधिसूचना जारी होने से पहले मेला स्थल पर मक्खी और मच्छर नाशक दवाओं का छिड़काव किया जाएगा. जिसकी जिम्मेदारी सेक्टर प्रभारी की होगी.

Share, Likes & Subscribe