January 17, 2021

UK LIVE

ख़बर पक्की है

किसानों का नया पैतरा !

नेशनल डेस्क- नई दिल्ली- केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली बॉडर्र पर किसानों का प्रदर्शन पिछले 18 दिनों से जारी है जिसके कारण क्षेत्र का व्यापार और खेती प्रभावित हो रही है।  और इसी के साथ किसान आंदोलन आज अपने 19वें दिन में प्रवेश कर चुका है, किसानों ने अपना प्रदर्शन तेज कर दिया है और आज वे भूख हड़ताल पर हैं।

इसमें उन्हें दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल का साथ भी मिला है,जो आज किसानो के साथ उपवास रखेगें। केजरीवाल ने रविवार को कहा की मैं AAP के कार्यकर्ताओं से इसमें शामिल होने की भी अपील करता हूं और साथ ही उन्होने ये भी कहा की किसानों की सभी मांगों को तुरंत केंद्र सरकार को स्वीकार करना चाहिए और न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) की  गारंटी के लिए एक विधेयक लाना चाहिए।

केंद्र सरकार सरकार चाहती है कि नए कृषि कानूनों को लेकर किसानो के साथ बातचीत के माध्यम से इस परेशानी को खत्म किया जाए लेकीन किसान इन तीन कानूनो की वापसी की मांग पर अड़े हुए है। किसान संगठनों और सरकार के बीच इस मुद्दे को लेकर कई दौर की बातचीत भी हो चुकी है, लेकिन इन बातचीत से बात नही बन पाई।

जानकारी के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने 27 नवंबर को प्रदर्शनकारियों को बुराड़ी मैदान पर शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने की मंजूरी दी थी लेकिन इसके बावजूद किसानों ने दिल्ली की अलग अलग सीमाओ को बंद कर दिया है और प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है। अधिवक्ता ओम प्रकाश परीहार के जरिये दायर याचिका में कहा की दिल्ली सीमाओं पर प्रदार्शन की वजह से किसानो ने रास्ते बंद कर दिए है जिसकी वजह से लोगो को काफी दिक्कतों का सामाना करना पड़ रहा है।

उच्चातम न्यायालय 16 दिसंबर को इस याचिका पर सुनवाई करेगी जिसमें उन्होने अधिकारियों को यह निर्देश  देने की मांग की है कि वे केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसानों को तत्काल हटाएं जाए।

Share, Likes & Subscribe