January 25, 2021

UK LIVE

ख़बर पक्की है

जल्द आने वाली है कोरोना वैक्सीन

वैक्सीन का इंतज़ार हुआ खत्म , रहें लगवाने के लिए तैय्यार !

नेशनल डेस्क- नई दिल्ली- कोरोना वैक्सीन का इंतजार कर रहे भारतवासियों के लिए अच्छी खबर है। अब लोगों को कोरोना वैक्सीन को लेकर ज्यादा लंबे समय तक इंतजार करने की ज़रूरत नहीं है। क्योंकि अब वैक्सीन का इंतज़ार हुआ खत्म , रहें लगवाने के लिए तैय्यार !

जानकारी के मुताबिक, भारतीय नियामक अगले हफ्ते तक ऑक्सफोर्ड- एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दे सकते हैं। दवा कंपनी के स्थानीय निर्माता की ओर से संबंधित अधिकारियों को अतिरिक्त डाटा जमा कर लिया गया है।

कोरोना वैक्सीन लगवाने की कर लें तैयारी
कोरोना वैक्सीन लगवाने की कर लें तैयारी !

भारत अगर ब्रिटिश दवा निर्माता ऑक्सफोर्ड- एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन को हरी झंडी दिखा देता है, तो वह इस वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति देने वाला पहला देश बन जाएगा, क्योंकि ब्रिटिश दवा नियामक अभी भी ऑक्सफोर्ड- एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन को लेकर अपना परीक्षण कर रही है। ऑक्सफोर्ड- एस्ट्राजेनेका के अलावा फाइजर इंक और स्थानीय कंपनी भारत बायोटेक द्वारा बनाए गए टीकों के इमरजेंसी इस्तेमाल को लेकर भी भारतीय नियामक विचार कर रहे हैं।

क्या भारत में मिलेगी ब्रिटिश दवा निर्माता ऑक्सफोर्ड- एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन को हरी झंडी ?
क्या भारत में मिलेगी ब्रिटिश दवा निर्माता ऑक्सफोर्ड- एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन को हरी झंडी ?

दुनिया में सबसे ज्यादा वैक्सीन बनाने की क्षमता रखने वाला देश भारत अब अगले महीने से जनता को वैक्सीन देने की योजना बना रहा है और ये भारत का कोरोना महामारी के खिलाफ एक बड़ा कदम होगा। खास बात ये है कि ऑक्सफोर्ड- एस्ट्राजेनेका का कोरोना वैक्सीन कम-आय वाले देशों और गर्म जलवायु वाले लोगों के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है, क्योंकि ये वैक्सीन सस्ती है, परिवहन के लिए आसान है और सामान्य फ्रिज के तापमान पर लंबे समय तक रखी जा सकती हैं।

भारतीय वैक्सीन होगी सस्सी और सामान्य फ्रिज के तापमान में ऱकने वाली !
भारतीय वैक्सीन होगी सस्सी और सामान्य फ्रिज के तापमान में ऱकने वाली !

भारत के केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण(सीडीएससीओ) ने पहली बार 9 दिसंबर को पहले तीनों कंपनियों की ट्रायल की समीक्षा की और सीरम इंस्टीटयूट ऑफ इंडिया(एसआईआई) सहित सभी कंपनियों से अधिक जानकारी की मांग की। बता दें, कि सीरम इंस्टीटयूट दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीन मैन्यूफैक्चर संस्थान है।

जल्द खत्म होगा वैक्सीन का इंतज़ार !
जल्द खत्म होगा वैक्सीन का इंतज़ार !

सीरम इंस्टीटयूट ने सारा डाटा अधिकारियों को भेज दिया है। फाइजर कंपनी की ओर से जानकारी का इंतजार किया जा रहा हैं। एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की दो डोज मरीजों को दी जाए, तो ये 62 फीसदी असरदार होगी। लेकिन, अगर मरीज को आधी डोज दी जाएगी तो यह 90 फीसदी तक असरदार रहेगी। जानकारी के मुताबिक भारत ने अभी तक किसी भी कंपनी के साथ वैक्सीन सप्लाई डील पर हस्ताक्षर नहीं किए हैं।

Share, Likes & Subscribe