January 26, 2021

UK LIVE

ख़बर पक्की है

शहीद स्काड्रन लीडर समीर अबरोल की पत्नी गरिमा अबरोल बनी फ्लाइंग ऑफिसर

नारी सशक्तिकरण का सबसे बड़ा उदाहरण बनीं फ्लाइंग ऑफिसर “गरिमा अबरोल” शहीद पति को समर्पित की पासिंग आउट परेड यूनिफार्म!

भारत सदियों से वीरांगनाओं की भूमि रहा है, लक्ष्मी बाई, जोधा बाई जैसे नाम बच्चों को देशभक्ति के पाठ के तौर पर पढ़ाए जाते हैं। तो वहीं देश पर मर-मिटने वाले जांवाज़ वीरों के भी अनेक नामों से  देश का इतिहास अटा पड़ा है। एक ऐसी ही वीरांगना ने शहीद पति को समर्पित की पासिंग आउट परेड की अपनी यूनिफॉर्म, सबसे बड़ा “सशक्तिकरण” !

ऐसे ही देश के एक जांबाज़ समीर अबरोल इंडियन एयर फोर्स में स्क्वार्डन लीडर के पर पर तैनात जांवाज़ अधिकारी थे। साल 2019 फरवरी में समीर अबरोल की मौत बेंगलुरू में हुए मिराज 2000 एयरक्रॉफ्ट क्रैश में हो गई थी।

शहीद पति को समर्पित की अपनी पासिंग आउट परेड यूनिफार्म

समीर की इस तरह एयर क्रॉफ्ट हादसे में हुई मौत पर समीर की पत्नी गरिमा अबरोल ने सीधे सरकार से सावाल दाग दिये। सवाल ये, कि  जो शख्स एक कड़ी ट्रेनिंग लेकर  पायलट बनता है ,उसकी रक्षा के लिए क्या किया जाता है ? इस हादसे में समीर के साथ एक और स्क्वार्डन लीडर सिर्द्धार्थ नेगी भी मौत हुई थी।

गरिमा पति समीर अबरोल की मौत के बाद फेसबुक पर की गई अपनी पोस्ट के चलते चर्चा में आईं थीं। जिसमें उन्होंने एक सवाल करते हुए एयरफोर्स पर सवाल उठाया था। सवाल कि जवानों को पुराने यंत्र दिये जाते हैं जिससे उनकी जान हमेशा खतरे में रहती है। इन दोनों पायलटों की मौत सिर्फ एक रेग्युलर ट्रायल के दौरान हुई थी, ये विमान अपग्रेड होकर आया था और उसी के दौरान ये हादसा हो गया था।  

पासिंग आउट परेड में शामिल फ्लाइंड ऑफिसर गरिमा अबरोल, परेड का निरीक्षण करते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
पासिंग आउट परेड में शामिल फ्लाइंड ऑफिसर गरिमा अबरोल, परेड का निरीक्षण करते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

इस हादसे के बाद समीर अबरोल की पत्नी गरिमा अबरोल ने कड़ा दिल करके अपने पति के पद चिन्हों को चुना , वो जिंदगी को अपने पति की नज़रों से देखने की कोशिश करना थीं । वही यूनिफॉर्म पहनना चाहतीं थीं जो उनके पति पहनते थे।  और इसी के चलते गरिमा ने एयरफोर्स में भर्ती होने का कड़ा फैसला लिया। गरिमा ने एसएसबी SSB यानि सर्विस सलेक्शन बोर्ड की परीक्षा पास की। इस परीक्षा को पास कर गरिमा ने  ट्रेनिंग ली।     

गरिमा अबरोल ने सोशल मीडिया पर  नारी सशक्तिकरण की बातें करने वाले लोगों के मुंह पर एक बड़ा करारा चमाचा मारा है। कि वो सिर्फ बातें करते रहे लेकिन गरिमा ने वो हक़ीक़त में कर दिखाया। अब इंडियन एयरफोर्स की कड़ी ट्रेनिंग लेकर गरिमा अबरोल से फ्लाइंग ऑफिसर गरिमा अबरोल बन चुकी हैं।  फ्लाइंग ऑफिसर गरिमा अबरोल बीते रोज़ ही एयर फोर्स एकेडमी से पास आउट हुईं हैं।

नारी सशशक्तिकरण का सबसे बड़ा उदाहरण बनीं फ्लाइंग ऑफिसर गरिमा अबरोल
नारी सशशक्तिकरण का सबसे बड़ा उदाहरण बनीं फ्लाइंग ऑफिसर गरिमा अबरोल

शनिवार को हैदराबाद के डुंडीगल में एयरफोर्स एकेडमी में हुए पासिंग आउट परेड में गरिमा अबरोल भी शामिल थीं. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस पासिंग आउट परेड़ की सलामी लीं थी. सबसे अहम बात ये है कि फ्लाइंग ऑफिसर गरिमा ने पासिंग आउट परेड में वायुसेना की जो यूनिफॉर्म पहनी थी, वह उन्होंने अपने शहीद पति स्कवाड्रन लीडर समीर अबरोल को समर्पित की । साल 2015 में गरिमा की शादी स्क्वाड्रन लीडर समीर से हुई थीं और साल 2019 में स्क्वाड्रन लीडर समीर अबरोल बेंगलुरू में मिराज 2000 एयरक्राफ्ट क्रैश हादसे में शहीद हो गये थे।   

Share, Likes & Subscribe