April 10, 2021

UK LIVE

ख़बर पक्की है

बार-बार आ रहे भूकंप के झटके किसी बड़े ख़तरे की आहट तो नहीं !

उत्तराखंड दिल्ली एनसीआर से लेकर उत्तराखंड तक इन दिनों लगातार भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं. उत्तराखंड को भूकम्प के लिहाज से काफी संवेदनशील मना जाता है. इसकी गिनती जोन चार और पांच में की जाती है, जो कि अति संवेदनशील माने जाते हैं. ऐसे में सवाल उठना लाज़िमी है, कि कहीं बार-बार भूकम्प आने वाले ये छोटे-छोटे झटके किसी बड़े खतरे का इशारा तो नहीं. इस बात से वैज्ञानिक भी इनकार नहीं कर रहे हैं. वाडिया संस्थान के वरिष्ठ वैज्ञानिक सुशील कुमार का कहना है, कि उत्तराखंड में 7-8 रिक्टर स्केल तक का भूकम्प आ सकता है. हालांकि ये कब तक आता है, इसकी जानकारी अभी साफ नहीं है.

उत्तराखंड राज्य में मेगा अर्थक्वीक का कोई इतिहास नहीं रहा है, लेकिन बार-बार आ रहे भूकम्प से लोगों की चिंता जरुर बढ़ रही है. बीते दो दिनों में राज्य के दो जिलों में भूकम्प के झटके महसूस किए गए हैं. 8 जनवरी को बागेश्वर तो शनिवार को उत्तरकाशी जिले में 3.3 तीव्रता के भूकम्प के झटके महसूस किए गए है.

बीते दो दिनों में राज्य के दो जिलों में भूकम्प के झटके
बीते दो दिनों में राज्य के दो जिलों में भूकम्प के झटके

 इसके अलावा उत्तरकाशी की बात की जाए, तो भूकम्प के लिहाज से ये इलाका भी काफी संवेदनशील माना जाता है. राज्य  के अलग-अलग जिलों में कई बार भूकम्प के हल्के झटके महसूस किए जा चुके हैं . 20 अक्टूबर 1991 में यहां 6.8 तीव्रता का भूकम्प आया था, जिसमें जान-माल का भारी नुकसान हुआ था. इसके अलावा देश के अलग-अलग राज्यों से भी भूकम्प की खबरें आ रही हैं. इससे पहले गुजरात, दिल्ली-एनसीआर और हिमाचल प्रदेश में भी भूकम्प के झटके महसूस किए गए थे.

Share, Likes & Subscribe