April 10, 2021

UK LIVE

ख़बर पक्की है

13 जनवरी को उत्तराखंड पहुंचेगी वैक्सीन, मिली 1.13 लाख डोज़ !

उत्तराखंड- उत्तराखंड को पहले चरण के टीकाकरण के लिए सीरम इंस्टीट्यूट से कोविशील्ड वैक्सीन की 1.13 लाख डोज मिलेगी. केंद्र सरकार की ओर से सीरम इंस्टीट्यूट से प्रदेश को वैक्सीन की डोज देने के निर्देश जारी किए गए. फ्लाइट के माध्यम से 13 जनवरी की शाम तक ये वैक्सीन पुणे से प्रदेश में पहुंचेगी. एक हेल्थ वर्कर को वैक्सीन की दो डोज लगनी है. इस हिसाब से पहले चरण में केवल 50 हजार लोगों को ही वैक्सीन लग पाएंगी. बाकी बचे हेल्थ वर्कर्स के लिए केंद्र से वैक्सीन मांगी जाएगी.

सीरम इंस्टीट्यूट से कोविशील्ड वैक्सीन की 1.13 लाख डोज पहुंचेगी उत्तराखंड
फाइल फोटो- सीरम इंस्टीट्यूट से कोविशील्ड वैक्सीन की 1.13 लाख डोज पहुंचेगी उत्तराखंड

दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को भारत के सभी जिलों में होने वाला है. जिसके लिए पूरा देश तैयारियों में जुट गया है. 12 जनवरी को पुणे के सीरम इस्टीट्यूट से देश के अलग-अलग राज्यों में कोविड वैक्सीन भेजी गई. इन वैक्सीन को राज्यों में पहुंचाने के लिए फ्लाइट का इस्तेमाल किया जा रहा है.

12 जनवरी को पुणे से देश के अलग-अलग शहरों में रवाना हुई कोरोना वैक्सीन
फाइल फोटो- 12 जनवरी को पुणे से देश के अलग-अलग शहरों में रवाना हुई कोरोना वैक्सीन

राज्य में पहले चरण में कोविड वैक्सीन लगाने के लिए 87,588 हेल्थ वर्करों का डाटा तैयार कर कोविन पोर्टल पर अपलोड किया गया है. केंद्र से प्रदेश को 1.13 लाख वैक्सीन दी जा रही है. केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों के मुताबिक सबसे पहले वैक्सीन हेल्थ वर्कर्स को दी जाएंगी. पहली डोज लगने के 28 दिनों के भीतर ही दूसरी डोज भी लगेगी. राज्य नोडल अधिकारी और एनएचएम मिशन निदेशक सोनिका ने बताया, कि पहले चरण में प्रदेश को 1.13 लाख वैक्सीन मिल रही है. इसके लिए केंद्र सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट से कोविशील्ड वैक्सीन प्राप्त करने के निर्देश दिए हैं. ये वैक्सीन 13 जनवरी की शाम को पुणे से उत्तराखंड पहुंचा दी जाएगी.

 16 जनवरी से शुरु होगा देश में कोरोना वैक्सीनेशन
फाइल फोटो- 16 जनवरी से शुरु होगा देश में कोरोना वैक्सीनेशन

कोविड वैक्सीन को सबसे पहले दून और हल्द्वानी में राज्य स्तर पर बनाए गए वॉक इन कूलर में पहुंचाया जाएगा. यहां से वैन के जरिए ये दूसरे जिलों में भेजी जाएंगी. वॉक इन कूलर में वैक्सीन को 2-8 डिग्री सेल्सियस तापमान पर रखा जाएगा. जिसके लिए प्रदेश में 317 कोल्ड चेन प्वाइंट चिन्हित किए गए हैं. एनएचएम निदेशक डॉ. सरोज नैथानी ने जानकारी दी, कि पहले चरण में सभी जिला चिकित्सालय, मेडिकल कॉलेज, एम्स, सेना चिकित्सालय, उप चिकित्सालय और उप सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परप तैनात हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीन दी जाएगी. जिसमें आशा और एएनएम भी शामिल हैं.

Share, Likes & Subscribe