April 10, 2021

UK LIVE

ख़बर पक्की है

कोरोना के साथ ‘बर्ड फ्लू’ की दहशत, उत्तराखंड में अलर्ट !

उत्तराखंड-देहरादून- उत्तराखंड के निकटवर्ती राज्यों में हिमाचल, राजस्थान, और मध्यप्रदेश में बर्ड फ्लू से परिंदों की मौत से लोग दहशत में हैं जिसके चलते चकराता डीएफओ ने अर्लट जारी किया है. वैश्विक स्तर पर फैली कोरोना महामारी के बीच बर्ड फ्लू के नये खतरे की दस्तक के चलते आसन रेंज की टीम ने पूरे आसन वैटलैंड क्षेत्र में प्रवासी पक्षियों पर निगरानी के आदेश दिए हैं. हालांकि अभी तक बर्ड फ्लू आसन वेटलैंड नहीं पहुंचा है. लेकिन परिंदों के एक जगह से दूसरी जगह जाने के चलते यहां पर भी खतरे की आशंका बनी हुई है.

हिमाचल प्रदेश में 1700 प्रवासी पक्षियों की मौत
हिमाचल प्रदेश में 1700 प्रवासी पक्षियों की मौत

देश के पहले कंजरवेशन रिजर्व और रामसर साइटस आसन नमभूमि में वर्तमान में विदेशी प्रवासी पक्षियों की 34 प्रजातियां अप्रैल के पहले हफ्ते तक प्रवास पर हैं. आसन वेटलैंड में रुडी शेलडक यानि सुर्खाब, कामन पोचार्ड, कामन कूट, ग्रे लेग, साइबेरियन बार हेडेड गीज जैसी और कई अन्य प्रजातियों के पक्षियों के चलते झील में हर तरफ परिंदे ही परिंदे नजर आ रहे है.
उत्तराखंड से सटे राज्य हिमाचल में बर्ड फ्लू के फैलने की खबर मिलते ही चकराता वन प्रभाग के प्रभागीय वनाधिकारी नीतिश मणि त्रिपाठी ने अलर्ट जारी कर दिया है. इसी के साथ डीएफओ ने आसन रेंजर और टीम को आसन वेटलैंड में आए प्रवासी परिंदों पर निगरानी के भी निर्देश जारी किए हैं.

बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए चकराता डीएफओ ने दिए पक्षियों पर निगरानी के आदेश
बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए चकराता डीएफओ ने दिए पक्षियों पर निगरानी के आदेश

जिसके बाद आसन रेंज की टीम परिंदों की निगरानी कर रही है, ताकि बर्ड फ्लू का थोड़ा सा भी असर दिखने पर इसे फैलने से तुरंत रोका जा सके. डीएफओ के निर्देश के बाद आसन रेंजर राजेंद्र हिगवाण और वन दारोगा प्रदीप सक्सेना प्रवासी परिंदों की निगरानी में जुट गए हैं.

Share, Likes & Subscribe